दूध उत्पादन से जिले को बनाना है आत्मनिर्भर : उपायुक्त

LIVE PALAMU NEWS

गढ़वा : जिला गव्य विकास कार्यालय परिसर में गुरुवार को मुख्यमंत्री पशुधन विकास योजना 2020- 21 के लाभुकों को वितरण को लेकर दुधारू पशु मेला का आयोजन किया गया। मौके पर मुख्य अतिथि के रुप में उपस्थित उपायुक्त गढ़वा राजेश कुमार पाठक ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का उद्घाटन किया। उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए उपायुक्त ने कहा कि मुख्यमंत्री पशुधन विकास योजना 2020-21 के तहत दुधारू पशु मेला आयोजन करने का मुख्य उद्देश्य जिले को दूध उत्पादन के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाना, ग्राम स्तर पर दूध उत्पादन के माध्यम से रोजगार के अवसर उपलब्ध कराना, दूध उत्पादन के लिए नई तकनीक संबंधी प्रशिक्षण एवं प्रसार कार्य, उपभोक्ताओं को उचित दर पर शुद्ध दूध की आपूर्ति करना है।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री पशुधन विकास योजना के तहत विभिन्न श्रेणियों के लाभुक के लिए अलग-अलग अनुदान की राशि निर्धारित की गई है। इसके अंतर्गत दो दुधारू गाय, पांच दुधारू गाय की मिनी डेयरी, 10 दुधारू गाय की कामधेनु डेयरी फार्मिंग, वर्मी कंपोस्ट एवं डीप बोरिग, हस्त चलित चारा मशीन व विद्युत चलित चारा मशीन आदि योजनाएं हैं, जिसमें प्रगतिशील पशुपालक व अहर्ता को पूरे करने वाले किसान योजना का लाभ ले सकेंगे। उन्होंने कहा कि गव्य विकास विभाग द्वारा यह एक अच्छा प्रयास है।

खाने के अलावा दूध की बिक्री कर आमदनी के स्त्रोत में कार सकते है इजाफा

उपायुक्त ने कहा कि दुधारू गायों का प्रयोग दूध खाने के अलावा दूध की बिक्री कर आमदनी के स्त्रोत में इजाफा किया जा सकता है। इससे कृषक बंधुओं की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा। उनका जीवन खुशहाल होगा। बताते चलें कि उपायुक्त द्वारा मौके पर दो महिलाओं को एक-एक गाय का वितरण किया गया। जिसमें उपायुक्त ने महिलाओं को उत्साहित करते हुए कहा कि पशुओं की देखभाल अच्छे से करें, इसे समय पर चारा, साफ सफाई व इसकी स्वास्थ्य की देखभाल करने की जिम्मेदारी भी आपकी है। आज आपके यहां लक्ष्मी का प्रवेश हो रहा है।

यह काफी हर्ष की बात है। इसके दुग्ध को खाने के साथ इसे बिक्री कर अपने आमदनी को बढ़ा सकते हैं तथा आप इस प्रकार की योजना से जुड़ने के लिए आसपास के लोगों को भी उत्साहित करें। यदि आप सफल किसान बनना चाहते हैं तो इस प्रकार की योजनाएं आप सबों के लिए काफी अच्छी साबित होगी। कार्यक्रम में जिला पशुपालन पदाधिकारी सह प्रभारी जिला गव्य विकास पदाधिकारी डा. धनिक लाल मंडल, डा. प्रमोद कुमार, डा. गौतम कुमार, डा. प्रमोद कुमार, उपेंद्र यादव, प्रमोद तिवारी समेत कई अन्य लोग उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Hello there
Leverage agile frameworks to provide a robust synopsis for high level overviews.
error: Content is protected !!