जमीनी विवाद में हुई कृष्णा दुबे की हत्या, फिल्मी स्टाइल में अपराधियों ने पहले मारी गोली फिर रेत दिया गाला।

LIVE PALAMU NEWS
लाइव पलामू न्यूज: पलामू जिले में के पाटन थाना क्षेत्र अंतर्गत महिन्द्रा मोड़ के पास गुरुवार सुबह घात लगाकर की गई बरसईता निवासी कृष्णा दुबे की हत्या के बाद से इलाके में सनसनी फैल गई है। 10 दिन में गाला रेतकर हत्या की पलामू जिले में यह दूसरी घटना है। वही घटना की सूचना पाकर आनन-फानन में पलामू एसपी चंदन कुमार सिन्हा और एसडीपीओ सुरजीत कुमार मौके पर पहुंचे और मामले की छानबीन कर रहे हैं।
RAKESH MEMORIAL HOSPITAL
RAKESH MEMORIAL HOSPITAL
पुलिस द्वारा मिली जानकारी के अनुसार मृतक कृष्णा दुबे सूरत से घर लौट रहा था। इसके लिए वह महिंद्रा मोड़ पर अपने नाबालिग भांजा इंतजार कर रहा था। जैसे ही कृष्णा दुबे गाड़ी से उतर कर अपने घर जाने लगा था कि पहले से घात लगाकर बैठे तीन अपराधियों ने उस पर हमला कर दिया। सूत्रों की मानें तो अपराधी ने कृष्णा दुबे को पहले गोली मारी फिर दौड़ा कर गला रेत दिया। घटना की जानकारी भांजे ने परिजनों और अन्य ग्रामीणों को दिया।
ग्रामीणों ने किया रोड जाम
कृष्णा दुबे की हत्या से ग्रामीणों का गुस्सा फूट पड़ा। नाराज ग्रामीणों ने हत्या के विरोध में पाटन-मेदिनीनगर रोड को जाम कर दिया था। इस बीच मौके पर पहुंचे पलामू एसपी चंदन कुमार सिन्हा, एचडीपीओ सुजीत कुमार ने ग्रामीणों से बातचीत कर जाम खुलवाया और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए MMCH मेदिनीनगर भेज दिया।
परिजनों ने जमीन विवाद की दी है जानकारीः एसपी
पलामू एसपी चंदन कुमार सिन्हा ने बताया कि हत्याकांड को प्लानिंग के साथ अंजाम दिया गया है। परिजनों ने पुलिस को बताया है कि उनका गोतिया के साथ जमीन का विवाद चल रहा था। पुलिस सभी बिंदुओं पर जांच कर रही है, आशंका जताई जा रही है कि जमीन विवाद में हत्याकांड को अंजाम दिया गया है।
जिले में 10 दिनों के अंदर गाला रेतकर हत्या की यह दूसरी घटना
बीते 10 दिनों के अंदर पलामू जिले में गाला रेतकर हत्या करने की यह घटना घटना है। बीते 12 अगस्त को मेदिनीनगर शहर क्षेत्र के कुंड मुहल्ला निवासी राजेश्वर सिंह चंद्रवंशी और उनकी पत्नी शर्मिला देवी की भी गाला रेतकर पड़ोस में रहनेवाले लड़के ने हत्या कर दी थी। राजेश्वर सिंह चंद्रवंशी रिटायर फौजी रहे थें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!