अंतरिक्ष में 437 दिन रहकर रिकॉर्ड बनाने वाले रुसी अंतरिक्ष यात्री वलेरी पोल्याकोव का 80 वर्ष में निधन

LIVE PALAMU NEWS

लाइव पलामू न्यूज: मंगलवार को 80 वर्षीय वलेरी पोल्याकोव का निधन हो गया है। वलेरी अंतरिक्ष में रिकॉर्ड 437 दिन बिताने वाले रूसी अंतरिक्ष यात्री है। रूस की अंतरिक्ष एजेंसी रोसकॉस्मॉस ने डॉ. वलेरी पोल्याकोव के निधन की घोषणा की है।पोल्याकोव 8 जनवरी 1994 को अंतरिक्ष यात्रा पर गए थे। वे अंतरिक्ष में 437 दिन 17 घंटे 38 मिनट बिताने के बाद 22 मार्च 1995 को वापस आए थे। इस दौरान उन्होंने 7075 बार धरती के चक्कर लगाए और लगभग 19 करोड़ मील अंतरिक्ष यात्रा की। अंतरिक्ष में रहकर वे यह जानने की कोशिश कर रहे थे कि यदि किसी को मंगल ग्रह की लंबी यात्रा करनी पड़े तो ऐसा करने वाले लोग अपना मानसिक स्वास्थ्य बरकरार रख सकते हैं या नहीं।

रूसी अंतरिक्ष एजेंसी रोस्कॉस्मॉस ने उनकी मृत्यु की जानकारी देते हुए सोशल मीडिया पर पोस्ट किया उन्हें ‘हीरो ऑफ सोवियत यूनियन’ और ‘पायलट कॉस्मोनॉट ऑफ यूएसएसआर’ जैसी मानद उपाधियों से सम्मानित किया गया था। उनके शोध से यह बात स्पष्ट हुई थी कि मानव शरीर दूर अंतरिक्ष में भी तमाम दुश्वारियों का सामना करने में सक्षम है।1942 में मॉस्को के तुला शहर में जन्में पोल्याकोव पहले एक फ़िजिशियन थे। उसके बाद वे कॉस्मोनॉट बने। उनका पहला मिशन अगस्त 1988 में शुरू हुआ था, जिसमें उन्होंने आठ महीने अंतरिक्ष में बिताए थे। जिसके छह साल बाद (1994) में अंतरिक्ष में रहने का रिकॉर्ड बनाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!