छकरबंधा में कमजोर पड़ रही नक्सलियों की पकड़, मची हुई है भगदड़

LIVE PALAMU NEWS

लाइव पलामू न्यूज/मेदिनीनगर: पिछले डेढ़ महीनों में माओवादियों को काफी बड़ा नुकसान झेलना पड़ा है। एक तरफ तो माओवादियो के टॉप कमांडर संदीप यादव की बीमारी से मौत हो गई है। वहीं दूसरी ओर छकरबंधा इलाके में सुरक्षाबलों का कब्जा हो गया है। संदीप की मौत के बाद छकरबंधा के इलाके में भगदड़ मची हुई है। विगत दिनों गढ़वा पुलिस ने पांच लाख के इनामी माओवादी रविंद्र मेहता उर्फ छोटा व्यास को गिरफ्तार किया है। पूछताछ में उसने सुरक्षा एजेंसियों को कई बड़ी जानकारियां दी है।रविंद्र के अनुसार छकरबंधा इलाके में संदीप की मौत के बाद मध्यजोन में किसी भी कमांडर को एक दूसरे पर विश्वास नहीं है। उसकी मौत के बाद माओवादी मध्य जोन में खास जाति वर्ग के कमांडर की तलाश में हैं ।

चूंकि संदीप की बिहार झारखंड में खास जाति पर पकड़ थी। सुरक्षा एजेंसियों की माने तोमाओवादी 15 लाख के इनामी कमांडर विनय यादव उर्फ मुराद पर अपना दांव खेल सकते हैं। बीना यादव और मुराद की भी खास जाति वर्ग पर पकड़ है। रविंद्र मेहता ने बताया कि संदीप की मौत के बाद पोलित ब्यूरो मेंबर प्रमोद मिश्रा ने सभी कमांडरों को छकरबंधा छोड़ने का निर्देश दिया था। बकौल रविंद्र संजय गोदराम के दस्ते में था। सभी कमांडर अलग अलग दस्तों के साथ निकल गए व प्रमोद मिश्रा ने सभी अपने अपने प्रभाव वाले इलाके में जाने का निर्देश देते हुए कहा कि सही वक्त आने पर सभी को पत्र के माध्यम से सूचित कर दिया जाएगा। उसके बाद प्रमोद मिश्रा खुद भी दूसरे इलाके में चला गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!