अंकिता हत्याकांड मामले में हाईकोर्ट ने लिया स्वत: संज्ञान

LIVE PALAMU NEWS

लाइव पलामू न्यूज/ रांची: मंगलवार को हाईकोर्ट ने दुमका में 12वीं की छात्रा अंकिता को जलाकर मार डालने के मामले में स्वत: संज्ञान लेते हुए राज्य के डीजीपी को तलब किया है। अदालत ने उनसे वारदात और मामले में अब तक हुई कार्रवाई पर रिपोर्ट मांगी है। अदालत ने डीजीपी को पीड़ित परिवार को पर्याप्त सुरक्षा मुहैया कराने का आदेश दिया है। उम्मीद है कि मंगलवार शाम तक इस मामले में अदालत का विस्तृत आदेश सामने आ सकता है। दूसरी ओर राष्ट्रीय महिला आयोग ने भी अंकिता हत्याकांड पर संज्ञान लिया है। आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने इस मामले की निष्पक्ष और समय सीमा के भीतर जांच कराने के लिए झारखंड के पुलिस महानिदेशक को पत्र लिखा है। एनसीडब्ल्यू चेयरपर्सन ने अब तक की गयी कार्रवाई की रिपोर्ट महिला आयोग को देने का निर्देश दिया है।

गौरतलब है कि एकतरफा प्यार में पागल दुमका के जरुआडीह मुहल्ले में रहनेवाली अंकिता सिंह को उसी मुहल्ले के शाहरूख ने पेट्रोल उड़ेलकर आग लगा दी थी। रांची स्थित रिम्स में पांच दिनों तक इलाज के बाद बीते शनिवार की देर रात अंकिता ने दम तोड़ दिया था। घटना के कारण पूरे झारखंड में उबाल है। बाल कल्याण समिति (सीडब्ल्यूसी) ने अंकिता को नाबालिग बताते हुए पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज करने को कहा है। समिति ने कहा कि छात्रा की 10वीं के मार्कशीट के मुताबिक उसकी उम्र 16 साल के आसपास थी। जबकि मामले की जांच कर रहे एसडीपीओ नूर मुस्तफा ने उसे बालिग बता दिया था। उनपर कातिल शाहरूख के साथ पक्षपात का आरोप लग रहा था। जिसके बाद पुलिस ने एसडीपीओ को जांच से हटा दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!