एसडीओ के सकारात्मक पहल पर लगा कैंप, 65 व्यक्तियों का हुआ स्वास्थ्य जांच

LIVE PALAMU NEWS

लाइव पलामू न्यूज़/मेदिनीनगर: सदर अनुमंडल पदाधिकारी राजेश कुमार साह की सकारात्मक पहल पर गुरुवार को सदर अनुमंडल क्षेत्र के कौड़िया पंचायत के गणके गांव में स्वास्थ्य जांच शिविर लगाया गया। शिविर में 65 व्यक्तियों का स्वास्थ्य जांच किया गया। चिकित्सकों द्वारा जांच के दौरान लोगों में सर्दी-बुखार जैसे लक्षण पाए गए। जांचोंपरांत चिकित्सक एवं स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा उन्हें जरूरत की आवश्यक दवाइयां दी गई।

जांच टीम का नेतृत्व सदर अनुमंडल पदाधिकारी राजेश कुमार साह कर रहे थे, जबकि जांच टीम में डॉ. विनीत कुमार, डॉ. अमित कुमार के अलावा फार्मासिस्ट सुरेश चौधरी, एएनएम किरण देवी, गुप्तेश्वर पांडेय, आंगनबाड़ी सेविका एवं सहिया शामिल थे। डॉ. विनीत कुमार ने बताया कि स्वास्थ्य जांच में वैसा कोई व्यक्ति नहीं मिला जो लंबे समय या गंभीर रूप से बीमार है। 2 से 3 दिनों से लोगों में सर्दी, खांसी व बुखार के सामान्य लक्षण थे, जिसका इलाज लोग न तो विशेषज्ञ चिकित्सक से करा रहे थे न ही अस्पताल पहुंचे थे।

कोई मेडिकल दुकान से दवाइयां लेकर खा रहा था तो कोई स्थानीय स्तर पर किसी अप्रशिक्षित व्यक्ति से इलाज करवा रहा था। इससे उन्हें ठीक होने में अधिक समय लगने की संभावना थी या फिर गंभीर बीमारी की चपेट में आने की। व्यक्तियों में सामान्य लक्षण सर्दी, खांसी, बुखार के लक्षण पाए गए, जो मौसम में हो रहे बदलाव की वजह से संभव है। उन्होंने बताया कि क्षेत्र के अधिकांश लोग चापाकल, बोरिंग तथा सरकारी स्तर पर लगाए गए जल मीनार से पानी पीते हैं।

डॉक्टर एवं स्वास्थ्य कर्मियों की टीम द्वारा सभी ग्रामीणों को पानी उबालकर पीने की सलाह दी गई, ताकि सर्दी-खांसी,बुखार आदि मौसमी बीमारी से निजात मिल सके। सदर अनुमंडल राजेश कुमार साह ने बताया कि उन्हें सूचना मिली कि पंचायत क्षेत्र में ज्यादा संख्या में लोग बीमार है। इसके बाद उन्होंने तत्परता दिखाते हुए सिविल सर्जन से संपर्क एवं समन्वय स्थापित कर स्वास्थ्य टीम को लेकर कौड़िया पंचायत के गणके गांव पहुंचे और लोगों का स्वास्थ्य जांच करवाया, ताकि लोग गंभीर बीमारी की चपेट में न पड़े।

उन्होंने बताया कि कुछ लोग ऐसे भी मिले जो कोविड-19 संक्रमण के खतरे से भयाक्रांत थे, जिसकी वजह से अस्पताल या अच्छे डॉक्टर से इलाज नहीं करा रहे थे कि उनका फिर से कोविड जांच कराई जाएगी। हालांकि ग्रामीणों ने बताया कि उन्होंने पहले कोविड-19 जांच कराया है और टीका भी ले लिया है। कई ऐसे लोग भी मिले जो टीका का दोनों डोज ले चुके थे। सदर अनुमंडल पदाधिकारी ने लोगों को कोविड-19 से डरने की नहीं, बल्कि एहतियात बरतने की सलाह देते हुए कोविड गाइडलाइन का पालन करने की बात सुझाई।

साथ ही कोविड अनुरूप व्यवहार को अपनाते हुए हमेशा मास्क लगाने, हाथों की सफाई साबुन -पानी एवं सेनिटाइजर से करते रहने तथा दो व्यक्तियों के बीच दूरी बना कर रहने की सलाह दी। वहीं जिन लोगों ने टीका नहीं लिया है, उन्हें शीघ्र टीका लेने की बात कही। उन्होंने कहा कि कोविड जांच कराने से भी नहीं डरें। समय रहते जांच होने पर पॉजिटीव, निगेटिव का पता चलेगा। पॉजिटीव होने पर भी घबराने की जरूरत नहीं है। समय से इलाज होने पर ठीक हो जायेंगे, लेकिन जांच में लापरवाही या शिथिलता बरतने से और गंभीर होंगे, जिसके कारण खतरा और बढ़ जायेगा।

इसलिए समय से जांच कराना आवश्यक है। इधर, गांव में ही स्वास्थ्य जांच शिविर लगने से ग्रामीणों में भी उत्साह था कि उन्हें इलाज के लिए कहीं और जाने की जरूरत नहीं पड़ी। बल्कि सरकार उनके गांव-घर आकर स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान की। ग्राम वासियों ने एसडीओ व जिला प्रशासन के इस कार्य की सराहना की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Hello there
Leverage agile frameworks to provide a robust synopsis for high level overviews.
error: Content is protected !!