निशिकांत दुबे, मनोज तिवारी समेत 9 लोगों पर एफआईआर दर्ज, जानिए क्या है मामला

LIVE PALAMU NEWS

लाइव पलामू न्यूज/देवघर : देवघर एयरपोर्ट में सुरक्षा में हुई चूक को लेकर गोड्डा सांसद निशिकांत दुबे, सांसद मनोज तिवारी समेत 9 लोगों पर देवघर के कुंडा थाना में एफआईआर दर्ज करवाया गया है। मामला 31 अगस्त का है जब दुमका हत्याकांड के पीड़ित परिवार से मिलने और सहायता राशि सौंपने के लिए गोड्डा लोकसभा के सांसद निशिकांत दुबे, उनके पुत्र कनिष्क कांत दुबे, माहिकांत दुबे, सांसद मनोज तिवारी, मुकेश पाठक, देवता पांडेय, पिंटू तिवारी देवघर चार्टड प्लेन से आए थे। अब इन सबके विरुद्ध देवघर एयरपोर्ट के एटीसी में जबरन प्रवेश करने और अपना प्रभाव का इस्तेमाल कर जबरन एटीसी क्लियरेंस लेने पर कुंडा थाना में एफआइआर दर्ज करवाया गया है। इसके अलावे देवघर एयरपोर्ट के निदेशक संदीप ढींगरा पर अपने कर्तव्य के प्रति लापरवाही एवं यात्रियों को अप्रत्यक्ष रुप से एटीसी रूम में प्रवेश करने पर सहमति देने के आरोप लगाते हुए भी शिकायत की गयी है। इस मामले में एयरपोर्ट पर तैनात डीएसपी सुमन की और से निशिकांत दुबे समेत सात के खिलाफ देवघर एयरपोर्ट की सुरक्षा में चूक मामले को लेकर केस दर्ज किया गया है।

क्या है पूरा मामला:-
31 अगस्त को डॉ निशिकांत दुबे, सांसद मनोज तिवारी, कपिल मिश्रा समेत कुछ लोग दुमका हत्याकांड पीड़ित परिवार से मुलाकात करने पहुंचे थे। इस दौरान सासंद चार्टर्ड प्लेन से देवघर के एयरपोर्ट पर उतरे थे। पीड़ित परिवार से मिलने और आर्थिक सहायता राशि सौपने के बाद सांसद शाम को 5 हजकर 30 मिनट पर हवाई अड्डे पहुंच गए थे और प्लेन में सवार हो गए थें ।लेकिन एटीसी ने उड़ान भरने की अनुमति नहीं दी। ऐसे में विवाद हो गया और पायलट समेत सांसद दुबे और अन्य लोग जबरन एटीसी की बिल्डिंग में घुस आए और जबरदस्ती एटीसी अधिकारियो से किल्यरेंस लिया गया। इसके बाद सभी प्लेन में सवार होकर दिल्ली चले गए।

डीएसपी ने लगाए आरोप:-
इस मामले में एयरपोर्ट की सुरक्षा की जिम्मेदारी संभाल रहे डीएसपी ने देवघर के कुंडा में एफआईआर दर्ज कराते हुए चार्टर्ड प्लेन के पायलट और सांसद निशिकांत दुबे समेत अन्य पर आरोप लगाए हैं कि इन सभी ने एटीसी की बिल्डिंग में जबरन घुसकर दबाव बनाते हुए नियमों को धज्जियां उड़ाई और एयरपोर्ट की सुरक्षा से खिलवाड़ करते हुए जबरन उड़ान भरने के लिए क्लियरेंस लिया ।

मामले पर क्या बोले निशिकांत दुबे:-
वहीं निशिकांत दुबे के साथ प्लेन में सवार सहयात्री के मुताबिक फ्लाइट ने सूर्यास्त होने के 10 मिनट बाद ही टेक ऑफ कर लिया था। जबकि नियमों के मुताबिक सूर्यास्त के 20 मिनट के बाद टेकऑफ नही कर सकते है। बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने कहा है कि झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को खुश करने के लिए ये एफआईआर दर्ज की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!