झारखंड सरकार के वित्त मंत्री और पीएचईडी मंत्री ने गंगा हॉस्पिटल का किया उद्घाटन, 15 किलोमीटर के अंदर होगी मुफ्त एंबुलेंस सेवा: संजीव

LIVE PALAMU NEWS
लाइव पलामू न्यूज/मेदिनीनगर: प्रमंडलीय मुख्यालय मेदिनीनगर के रेड़मा पाकी रोड में सोमवार को गंगा हॉस्पिटल का उद्घाटन झारखंड के वित्त मंत्री रामेश्वर उरांव, पीएचईडी मंत्री मिथिलेश ठाकुर, पांकी विधायक शशिभूषण मेहता, प्रमंडलीय आयुक्त जटाशंकर चौधरी, पलामू एसपी चंदन कुमार सिन्हा, शिक्षा विभाग के अवर सचिव ओमप्रकाश तिवारी ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया। मौके पर वित्त मंत्री रामेश्वर उरांव ने कहा कि जिले में मल्टी स्पेशलिस्ट हॉस्पिटल खुलना खुसी की बात है। इस तरह के हॉस्पिटल खुलने से जिले वासियों इलाज में सुविधा मिलेगी।
उन्होंने कहा कि मैं राज्य के स्वास्थ्य मंत्री से बात करूंगा कि प्राइवेट हॉस्पिटल को भी सरकार की ओर से मदद दी जाये। उन्होंने कहा कि जिस तरह से आयुष्मान भारत की योजना है। मैं चाहूंगा कि इस गंगा अस्पताल में भी लोगों को आयुष्मान भारत योजना का लाभ गरीब लोगों को मिल सके। इसके लिए जो भी क्राइटेरिया होगी उसे इस अस्पताल को पूरा करना होगा। पूरा करने के बाद मैं आशा करता हूं कि जल्द ही इन्हें वह सारी सुविधाएं मिलने लगेगी। इस अस्पताल के लिए वित्त मंत्री ने संजीव तिवारी व उनके पूरे टीम को भी धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य की रक्षा करना ही सबसे बड़ा धर्म है। हमें आशा है कि यह अस्पताल बेहतर ढंग से गरीबों का इलाज करेगी।
वित्त मंत्री रामेश्वर उरांव ने बातों ही बातों में पुरानी बातों को याद करते हुए कहा कि मैं इस रोड से 4 साल तक जीएलए कॉलेज गया हूं, उस समय इस रोड में गिनेचुने घर थे। आज मुझे यहां आने पर पुरानी बातों की याद आ गई। उन्होंने कहा कि राजस्व के मामले में झारखंड पहले से बेहतर हुआ है। याद दिलाया कि पहले कोरोना वायरस में 45 दिन तक सारे कार्यालय बंद थे। इस बार दूसरे वेभ में भी 35 दिन तक सारे कार्यालय बंद रहे। जिस कारण से लोगों का जितना कार्य होना चाहिए था वह कार्य नहीं हो पाया। हम लोग कोशिश करेंगे कि सरकार जनता की आकांक्षाओं को बेहतर ढंग से पूरी कर सके।
RAKESH MEMORIAL HOSPITAL
RAKESH MEMORIAL HOSPITAL
गंगा हॉस्पिटल सेवा क्षेत्र के मामले में मील का पत्थर होगा साबितः मिथिलेश।
पीएचईडी मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने कहा कि संजीव तिवारी बड़े ही सामाजिक व्यक्ति है। यह हमेशा व्यक्तिगत स्वार्थ छोड़कर समाज के लिए कार्य करते हैं। हमें आशा है कि इस अस्पताल का संचालन भी वे अच्छे ढंग से करेंगे। लोगों के मन में जो धारणा है कि प्राइवेट अस्पताल में बहुत ज्यादा पैसा लगता है। इस धारणा को संजीव तिवारी गंगा अस्पताल के माध्यम से इस धारणा को खत्म करेंगे। पलामू प्रमंडल के लिए यह अमूल्य उपहार है। उन्होंने कहा कि यह लोगों की सेवा के लिए मील का पत्थर साबित होगा।
उन्होंने पुरानी बातों को याद करते हुए बताया कि कोरोना काल में ऐसा लगता था जैसे कब किसके साथ क्या हो जाएगा कोई पता नहीं था। एक समय ऐसा आ गया था कि महामारी इतनी बढ़ गई थी कि अस्पताल व डॉक्टरों ने फोन उठाना भी बंद कर दिया था। ऐसे समय में अभी जब थर्डवेव आने की सुगबुगाहट हो रही है। ऐसे समय में गंगा अस्पताल का खुलना लोगों के लिए बहुत ही शुभ संकेत है। यहां पर अत्याधुनिक सुविधाएं दी गई है।
पांकी के विधायक शशिभूषण मेहता ने कहा कि इस अस्पताल के खुलने से जो बेड की कमी थी। उसको पूरा करने की कोशिश की जाएगी। जिससे यहां के लोगों को बेहतर सुविधा मिल सकेगा। इस मौके पर प्रमंडलीय आयुक्त जटाशंकर ने कहा कि मानव सेवा ही सबसे बड़ा धर्म है। हमें आशा है कि अस्पताल जो खोला गया है वह मानव सेवा के लिए ही खोला गया है। लोगों को इससे ज्यादा से ज्यादा फायदा मिल सकेगा।
LONG LIFE CARE HOSPITAL
LONG LIFE CARE HOSPITAL

वहीं आरक्षी अधीक्षक चंदन कुमार सिन्हा ने कहा कि जितना अस्पताल व डॉ रहेंगे। उससे समाज के लोगों को ही फायदा होगा। गौरतलब है कि इस अस्पताल में 15 किलोमीटर के दायरे में जो भी मरीज अस्पताल को फोन करेंगे। उन्हें मुफ्त एंबुलेंस की सुविधा दी जाएगी। अस्पताल के संस्थापक संजीव तिवारी ने बताया कि उनकी चाची प्रभावती देवी के द्वारा यह सुविधा उपलब्ध कराया गया है। वहीं प्रमंडल के चर्चित समाजसेवी अर्जुन पांडे ने भी यह घोषणा किया कि उनके द्वारा इस अस्पताल को एक एंबुलेंस मुफ्त में दिया जाएगा।
SATYA NURSING HOME
SATYA NURSING HOME
हॉस्पिटल के उद्घाटन के पूर्व वित्त मंत्री रामेश्वर उरांव, पीएचईडी मंत्री मिथिलेश ठाकुर, प्रमंडलीय आयुक्त जटाशंकर चौधरी, आरक्षी अधीक्षक चंदन कुमार सिन्हा, शिक्षा विभाग के अवर सचिव ओमप्रकाश तिवारी, आरडीडीई शिव नारायण साह, डीइओ पलामू, हॉस्पिटल के संस्थापक संजीव तिवारी, सूरज कुमार सहित कई गणमान्य उपस्थित थे।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!