पीएम किसान के लाभुकों को शत प्रतिशत केसीसी से अच्छादित करने को लेकर उपायुक्त गंभीर

LIVE PALAMU NEWS
पंचायत स्तर पर लगाए गए कैंपों के माध्यम से आये कुल 34,904 नये आवेदन

लाइव पलामू न्यूज/मेदिनीनगर: जिले के पीएम किसान के लाभुकों को शत प्रतिशत केसीसी से अच्छादित करने को लेकर पिछले दिनों उपायुक्त शशि रंजन ने गंभीरता दिखाते हुए जिले के सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं अंचलाधिकारी से पंचायत वार कैंप लगाकर सभी लाभुकों से केसीसी ऋण फॉर्म जमा कराने को लेकर निर्देशित किया था जिसका असर दिखने लगा है।

बैंकों को स्वीकृति प्रदान करने हेतु भेजा गया कुल 34,904 नया फॉर्म
उपायुक्त श्री रंजन के निर्देश पर जिला अंतर्गत विभिन्न प्रखंडों के कई पंचायतों में ग्राम स्तर पर केसीसी ऋण का फॉर्म संग्रहण करने हेतु कैम्प आयोजित किया गया था जहां इन कैम्पों के माध्यम से 13 जुलाई से 31 जुलाई के बीच कुल 34,904 फॉर्म संग्रहित किया गया जिसके पश्चात सभी आवेदनों को स्वीकृति हेतु बैंकों को भेज दिया गया।
इतनी बड़ी संख्या में नए फॉर्म आने के पीछे जिला स्तर पर गठित कंट्रोल रूम की अहम भूमिका

13 जुलाई से 31 जुलाई के बीच आयोजित कैंप में कुल 34,904 फॉर्म संग्रहित किया गया है जबकि पिछले पूरे वर्ष में 21 हज़ार ही आवेदन आये थे। इतनी बड़ी संख्या में नए फॉर्म आने के पीछे जिला स्तर पर गठित कंट्रोल रूम एवं जिला कृषि पदाधिकारी अरुण कुमार की अहम भूमिका है। कंट्रोल रूम के सफल संचालन हेतु उपायुक्त ने सहायक समाहर्ता आशीष अग्रवाल को जिम्मेवारी सौंपी है सहायक समाहर्ता सह सहायक दंडाधिकारी श्री अग्रवाल द्वारा कंट्रोल रूम से पंचायत स्तर पर आयोजित कैंपों पर पैनी नजर रखी जाती हैं वहीं पंचायत स्तर पर प्राप्त होने वाले आवेदनों को कंट्रोल रूम द्वारा ही संग्रहित किया जाता है कंट्रोल रूम में नियुक्त कर्मचारी पंचायत स्तर पर लगने वाले कैम्प से लगातार संपर्क में बने रहते हैं।

इस बाबत सहायक समाहर्ता ने बताया कि जिले वासियों को केसीसी से संबंधित किसी भी तरह की समस्या होती है तो वह जिला स्तर पर स्थापित कंट्रोल रूम के लैंडलाइन नंबर 06562-228008 एवं मोबाइल नंबर 9065016304 पर संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा उन्होंने बताया कि केसीसी आवेदन पत्र की प्राप्ति अवधि को विस्तार करते हुए 14 अगस्त तक कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि आगामी 14 अगस्त तक विभिन्न पंचायतों में शिविर लगाकर केसीसी संबंधित आवेदन प्राप्त किए जाएंगे।

इधर जिले में कृषि कार्य में किसी तरह की कोई समस्या न आये इसे लेकर भी उपायुक्त सक्रिय हैं। उन्होंने सहायक समाहर्ता एवं जिला कृषि पदाधिकारी को आपस में समन्वय बनाते हुए जिले में खाद लाइसेंस के नवीकरण की प्रक्रिया में तेजी लाने की बात कही थी जिसके पश्चात सहायक समाहर्ता एवं जिला कृषि पदाधिकारी ने सक्रियता दिखाते हुए कुल 97 दुकानों का लाइसेंस का नवीकरण पूर्ण किया जिसमें उर्वरक की 60 दुकानों,बीज विक्रेता के 27 दुकानों एवं कीटनाशक में 10 दुकानों का नवीकरण किया गया है वहीं यह प्रक्रिया लगातार जारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!