ABVP ने JPSC में क्षेत्रीय भाषा के रूप में हिंदी, मगही और भोजपुरी को पुन: शामिल करने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम उपायुक्त को सौंपा ज्ञापन

LIVE PALAMU NEWS
लाइव पलामू न्यूज़/ मेदिनीनगर: अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद मेदिनीनगर इकाई का एक प्रतिनिधिमंडल के द्वारा नगर मंत्री रोहित देव की अध्यक्षता में पलामू उपायुक्त से मिलकर झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के नाम एक ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में झारखंड कर्मचारी चयन आयोग में क्षेत्रीय भाषा के रूप में हिंदी, मगही और भोजपुरी को पुन: शामिल करने की मांग की गई।
प्रतिनिधिमंडल ने ज्ञापन के माध्यम से अपनी बातों को रखते हुए कहा कि वर्तमान सरकार के द्वारा जेपीएससी की परीक्षा के नियमावली में बदलाव करते हुए पलामू प्रमंडल के क्षेत्रीय भाषा के रूप में संथाली और असुर भाषा को शामिल किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है, क्योंकि पलामू प्रमंडल सहित राज्य के कुछ अन्य जिले शुरू से ही हिंदी भाषी रहे हैं और ना ही इन क्षेत्रों में कुरुख और संथाली जैसे भाषाओं की शिक्षा दी जाती है। ऐसी परिस्थिति में यहां के छात्रों के लिए सरकारी नौकरी लेना असंभव हो जाएगा।
विद्यार्थी परिषद ने सरकार से मांग किया है कि जल्द से जल्द छात्र हित के मुद्दों को ध्यान में रखते हुए सरकार भोजपुरी, हिंदी और मैगही को क्षेत्रीय भाषा के रूप में शामिल करें नहीं तो अभाविप छात्र हित में आंदोलन हेतु सड़क से सदन तक संघर्ष करने के लिए तैयार है। मौके पर राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य विनीत पांडेय, जिला सहसंयोजक गोविंद मेहता, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य अभय वर्मा, नगर सह मंत्री रामा शंकर पासवान, गौरव दुबे, अमित दुबे सहित अन्य कार्यकर्ता मौजूद थे।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!