लगभग 130 करोड़ की लागत से बनी हेरहंज-पांकी सड़क साइड से बरसात आते ही बहा

LIVE PALAMU NEWS

रिपोट रूपेंद्र जायसवाल

हेरहंज (लातेहार) : सरकार से लेकर अधिकारी तक यह बात सीधा बोलकर निकल जाते है कि गुणवत्ता से किसी भी तरह का कोई समझौता नही किया जाएगा, गुणवत्ता से खिलवाड़ करने वाले जेल जाएंगे। परन्तु लातेहार जिले के बालूमाथ हेरहंज पांकी पथ निर्माण में काफी अनियमितता बरती गई। जिसके कारण करोडो की लागत से बनी सड़क अपनी गुणवत्ता का बखान खुद कर रही है। यहां पर हेरहंज बस स्टैंड और हेरहंज थाना के बीच मे सड़क के किनारे लगभग दस फीट लंबी और तीन फीट चौड़ी सड़क धस गई है जो बड़ी दुर्घटना को आमंत्रित कर रही है।

स्थानीय ग्रामीण बताते है की सड़क बनकर तैयार होते ही दूसरी ओर सड़क उखड़ना शुरू हो गया है। इसकी शिकायत कई बार सम्बंधित विभाग को की गई परन्तु सब लीपापोती कर मामले को शांत कार दिया गया। ग्रामीणों की माने तो उनके अनुसार सड़क निर्माण के शुरुवाती समय से ही गुणवत्ता को लेकर काफी विरोध होता रहा है परन्तु सवेंदक और विभागीय अधिकारियो की मिलीभगत के कारण आज ऐसी स्थिती उतपन्न हो गई है और सड़क जहां-तहां टूट कर बिखरने लगी है ।स्थानीय ग्रामीण बताते है कि सड़क निर्माण कार्य मे अधिकारी सिर्फ जांच के नाम पर खाना पूर्ति करते थे।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जाता है कि उक्त सड़क का निर्माण स्टेट हाइवे ऑथरिटी आफ झारखण्ड के द्वारा कराया जा रही है जो की हेरहंज होते हुए पांकी तक 50 किमी का काम कराया गया है। इस रोड का प्राक्कलन लगभग 130 करोड़ रुपये है। ग्रामीणों ने आरोप लगाया है की सड़क निर्माण के दौरान पुल पुलिया, नाली निर्माण समेत कई कार्य किये गए परन्तु गुणवत्ता का ख्याल नही रखा गया। सड़क किनारे नाली बनने के दौरान ही उसमे जगह-जगह पर दरार पड़ गई और अब सड़क की बारी है।

सड़क के हिसाब से नही हुवा नाली का निर्माण

स्थानीय ग्रामीण बताते है कि कंपनी सड़क के हिसाब से नाली का निर्माण भी नही कराई है, सड़क से दो फिट डेढ़ फीट ऊंचा कर नाली का निर्माण कराया जिसके कारण आये दिन दुर्घटना की संभावना बनी रहती है। नाली रोड से उचा रहने के चलते कई घरों और दुकानों के सामने आने जाने मे लोगो को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। स्थानीय ग्रामीणों ने नाली की उंचाइयों को कम करने के लिए कई बार हल्ला हंगामा किये परन्तु अभीतक कोई सकारात्मक पहल निकल कार सामने नही आया है।

जगह जगह पर उखड़ने लगी है सड़क

इतनी बड़ी राशि खर्च होने के बाद भी सड़क निर्माण मे न तो गुण वता का ख्याल रखा गया और न मापदंड का जिसका नतीजा है कि बालूमाथ से पांकी तक बने इस महत्वपूर्ण सड़क मे कई जगहों पर पिच उखड़कर अलग होने लगे है पिच उखड़ने की वजह से जगह जगह गडधे बन गए है।

क्या कहते है साज निदेशक

साज निदेशक ओपी यादव ने कहा की मुझे इस सम्बन्ध मे अभीतक कोई जानकारी नहीं है, साथ ही सड़क निर्माण होने के बाद उसे ठीक करने की जिम्मेवारी कार्य करने वाली एजेंसी की होती है। यदि ऐसा है तो सम्बन्धित एजेंसी सूचित कर उसे ठीक कराया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!