हेरहंज सीआरपीएफ कैंप परिसर मे लहलहा रहे है सैकड़ों फलदार पौधे, कैंप लगने से पूर्व उक्त जमीन नजर आता था बंजर

LIVE PALAMU NEWS

हेरहंज/रूपेंद्र कुमार : प्रखंड मुख्यालय स्थित हेरहंज सीआरपीएफ कैंप परिसर मे लहलहा रहे है सैकड़ों फलदार पौधे। कैंप लगने के पूर्व उक्त जमीन बंजर नजर आती थी। पूर्व मे यहां पर सिर्फ महुवा के पेड़ थे, परन्तु आज सीआरपीएफ के जवानों ने कैंप परिसर मे पड़े उक्त बंजर जमिन को हरा-भरा कर दिया है, कैंप परिसर के चारो तरफ फलदार पौधे के साथ-साथ कई अन्य पौधे भी लगे हुए है।

गौरतलब है कि उक्त जमीन मे उपयुक्त सही मिट्टी नहीं होने के कारण कुछ भी पैदा वार नहीं होता था, परन्तु आज सीआरपीएफ के जवानों कि कड़ी मेहनत कि वजह से यहाँ पर ढाई सौ से अधिक फलदार पौधे फल लगे हुए है, जिस मे एक सौ से अधिक पौधा फल दे रहा है। यह हेरहंज सीआरपीएफ कैंप थाना परिसर में ही स्थित है।

यह सीआरपीएफ कैंप नक्सालियों  कि गतिविधि कम करने के उदेश्य से सन्न  2010 मे स्थापित किया गया था। बीते 11 वर्षो में नक्सलीयों के साथ लड़ने के आलवा जवानों कि कड़ी मेहनत कि वजह से आज कैम्प परिसर मे कई फलदार पौधे आज फल दे रहे हैं। एक तरफ से माना जाय तो सीआरपीएफ के जवान उग्रवादी से ही लोहा नही लेते है बल्कि सामाजिक रूप से सभी स्तर पर कार्य करती रहती है। जिसका जीता जगता उद्धरण कैंप परिसर मै लगे पौधे से चारो तरफ हरियाली आज देखि जा सकती है।

कैंप में लगे है ढाई सौ से अधिक फलदार पौधे

सीआरपीएफ के पदाधिकारी गोपाल यादव  ने बताया कि यहां पर अभी  लगभग डेढ़ सौ से अधिक आम के पौधे है तथा अमरूद के तीस पौधे,पपीता, केला, जामुन के पौधे सहित अन्य फलदार पौधे लगे हुए  है, जो कि यहां पर स्थित थाना और कैंप के जवानों के अलावे बाहरी लोग भी इसके फल खाते है।

error: Content is protected !!