#Latehar मुसहर जाति के युवक की हुई लाठी डंडे से पिटाई, मुसहर जाति के लोगों ने किया पलायन

LIVE PALAMU NEWS

बरवाडीह (लातेहार): बरवाडीह प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत खुरा पंचायत के लंका में शनिवार को दो पक्षों में शराब पीने पिलाने को लेकर जमकर मारपीट की घटना हुई जहाँ एक तरफ लंका में रहने वाले खानाबदोश मुसहर जाति के लोग थे तो दूसरी तरफ स्थानीय भुइयाँ जाति के लोग शामिल थे I मारपीट की घटना की जानकारी के बाद वर्तमान मुखिया के पति और पूर्व मुखिया हुलास सिंह ने मौके पर पहुंचकर बीच-बचाव का प्रयास किया और पूरे मामले की जानकारी बरवाडीह थाने को दीI पुलिस टीम ने मौके पर पहुंचकर मामले को शांत कराने का प्रयास किया, वहीं रविवार को सुबह पूर्व में हुई मारपीट की घटना को लेकर मुसहर जाति के लोगों को गांव छोड़कर जाने का दबाव बनाते हुए कुछ लोगों के द्वारा पिटाई किए जाने की घटना घटित हुई जहाँ इस घटना के दौरान वर्तमान मुखिया के पति पूर्व मुखिया हुलास सिंह भी मौजूद थे I

इस पूरे प्रकरण का विडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहा है, इस विडियो में स्पष्ट तौर पर देखा जा रहा है कि मुसहर जाति के दो युवकों की शर्ट उतार कर लाठी डंडे से पिटाई की जा रही है, साथ ही साथ आसपास के कुछ महिलाओं और बच्चों के चीखने चिल्लाने की आवाजें आ रहीं हैंI पिटाई के दौरान मौजूद कुछ लोगों के द्वारा बीच-बचाव करने का भी प्रयास किया गया। वहीं पिटाई की घटना के बाद रविवार को लगभग दिन के 10:00 बजे के बाद सभी मुसहर जाति के लोगों ने लंका में बनाए अपनी झोपड़ी को जलाकर पलामू के चांदो के लिए पलायन कर गए I पर इस दौरान मुसहर जाति के लोगों ने यह आरोप लगाया गया कि मुखिया जी (वर्तमान मुखिया के पति पूर्व मुखिया) के द्वारा अपनी मौजूदगी में शनिवार को भी शराब को लेकर लड़ाई झगड़े की घटना को लेकर पिटाई करवाई गई है।

पूरे मामले पर वर्तमान मुखिया के पति पूर्व मुखिया हुलास सिंह ने कहा कि मेरे द्वारा या मेरे कहने पर किसी ने मारपीट नहीं की बल्कि मारपीट होने की जानकारी मिलने के बाद मैंने मौके पर पहुंचकर मारपीट को रोकने का प्रयास किया, साथ ही साथ दोनों पक्षों में सुलह करवाने की पूरी कोशिश की मगर कुछ लोगों के द्वारा मुझे बदनाम करने के लिए इस तरह से विडियो बना कर वायरल किया जा रहा है I हुलास सिंह ने यह भी कहा कि मेरे द्वारा इन लोगों को सरकारी लाभ दिलवाने को लेकर उनका आधार कार्ड बनवाने समेत राशन मुहैया कराने का काम लगातार किया गया है। उधर थाना प्रभारी श्रीनिवास सिंह ने कहा कि मैं विभागीय कार्य से बाहर था, इसकी जानकारी प्राप्त हुई हैइ मैं अपने स्तर से जांच कर रहा हूं, हालाँकि मुसहर जाति के लोग तो आवेदन लिख नही पाएंगे जिसके लिए मेरे द्वारा उनलोगों को बुलाया जा रहा है ताकि उनकी बातों को सुन कर आगे की कार्रवाई की जाए।

एक नंबर से आया था फोन- खुरा पंचायत के पूर्व मुखिया हुलास सिंह ने बताया कि शनिवार की शाम करीब 6 बजे मेरे पास एक नंबर से फोन आया था जो कि मुसहर जाति के लोग बात कर रहे थे और घटना की जानकारी दे रहे थे जिसके बाद मैं घटना स्थल पर पहुंचा। वहीं जिस नंबर से फोन आया था दैनिक भास्कर ने उस नंबर पर बात की तो एक महिला ने फोन उठाया और अपना नाम करमी देवी बताई और बोली कि हम अपना बकरी लेने गए थे तभी मुसहर जाति के लोग आए और मुझे मुखिया के पास फोन लगाने के लिए बोले कि लड़ाई हो रही है फोन लगा दे न, जिसके बाद हम फोन लगा दिए और मुसहर जाति के लोगों ने बात कर के पूर्व मुखिया हुलास सिंह को बुलाया जिस समय मुसगर जाति के दो युवक लोगों से पिट रहा था पर उनका हम नाम नहीं जानते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!